मुल्ला नसरुद्दीन बने कम्युनिस्ट | Communist Mulla Nasruddin Story In Hindi

फ्रेंड्स, इस पोस्ट में हम मुल्ला नसरुद्दीन का किस्सा “मुल्ला नसरुद्दीन बने कम्युनिस्ट” (Communist Mulla Nasruddin Story In Hindi) शेयर कर रहे हैं. मुल्ला नसरुद्दीन ने एक बार कम्युनिस्ट बनने की ठानी. क्या वो बन पाया? जानने के लिए पढ़िए ये मज़ेदार किस्सा :  

Communist Mulla Nasruddin Story In Hindi

Communist Mulla Nasruddin Story In Hindi
Communist Mulla Nasruddin Story In Hindi

पढ़ें मुल्ला नसरुद्दीन की कहानियों का संग्रह

एक बार की बात है. मुल्ला नसरुद्दीन ने कम्युनिस्ट बनने की ठान ली. ये खबर तेज़ी से पूरे गाँव में फ़ैल गई और लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गई. लोग हैरान थे, क्योंकि उन्हें मालूम था कि मुल्ला अपनी चीज़ों को किसी को देना पसंद नहीं करता.

खबर फैलते-फैलते मुल्ला के ज़िगरी दोस्त के पास पहुँची. वह भी इस ख़बर पर हैरान हुआ. उसने सोचा कि इस संबंध में मुल्ला से ही बात करना ठीक होगा.

वह मुल्ला से मिलने पहुँचा और उससे पूछा, “मुल्ला सुना है कि तुम कम्युनिस्ट बनने वाले हो. जानते हो कम्युनिज्म का क्या मतलब होता है?”

“हाँ, मुझे अच्छी तरह पता है.” मुल्ला ने जवाब दिया.

“ख़ाक पता है. जानते हो क्या करना पड़ता है? यदि तुम्हारे पास दो गाड़ियाँ हैं और किसी के पास एक भी नहीं. तो तुम्हें एक गाड़ी दूसरे को देनी पड़ेगी.”

“हाँ और मैं अपनी पूरी इच्छा से ऐसे करने को तैयार हूँ. मैं एक गाड़ी दूसरे को दे दूंगा.” मुल्ला बोला.

“अगर तुम्हारे पास दो मकान है और किसी के पास एक भी नहीं है. तो तुम्हें अपना एक मकान उसे देना पड़ेगा” दोस्त बोला.

“हाँ, मैं देने को तैयार हूँ.” मुल्ला बोला.

पढ़ें : मुल्ला नसरुद्दीन के बकरे का किस्सा 

“और अगर तुम्हारे पास दो गधे हैं और किसी के पास एक भी नहीं. तो तुम्हें अपना एक गधा दूसरे को देना पड़ेगा.” दोस्त बोला.

“नहीं मैं इस बात से इत्तफ़ाक नहीं रखता. मैं अपना गधा नहीं दे सकता. बिल्कुल भी नहीं दे सकता.” मुल्ला बोला.

“क्यों? तुम ऐसा क्यों नहीं कर सकते? यहाँ भी तो वही बात लागू होती है, जो गाड़ी और मकान के साथ होती है.” दोस्त बोला.

“वो इसलिए क्योंकि मेरे पास दो गाड़ियाँ और मकान तो नहीं है, लेकिन दो गधे है.” मुल्ला शांति से बोला.

दोस्त उसको देखता रह गया.

दोस्तों, आशा है आपको ये “Communist Mulla Nasruddin Story In Hindi“ पसंद आयी होगी. आप इसे Like कर सकते हैं और अपने Friends के साथ Share भी कर सकते हैं. मज़ेदार “Mulla Nasruddin Bane Communist” पढ़ने के लिए हमें Subscribe ज़रूर कीजिये. Thanks.  

Read More Stories In Hindi : 

अकबर बीरबल की सर्वश्रेष्ठ कहानियाँ     

तेनालीराम की सर्वश्रेष्ठ कहानियाँ 

शेख चिल्ली की सर्वश्रेष्ठ कहानियाँ  

Leave a Comment