शेर और सूअर की कहानी जातक कथा | Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi

फ्रेंड्स, इस पोस्ट में हम शेर और सूअर की कहानी जातक कथा (Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi) शेयर कर रहे है. Sher Aur Suar Ki Kahani Jatak Katha In Hindi.

कीचड़ में पैर धरोगे, तो छींटों से बच न पाओगे और कीचड़ में गिरोगे, तो कीचड़ में ही सन जाओगे। दुष्ट व्यक्ति कीचड़ के समान है। अनर्गल वचनों द्वारा ये दूसरों को आहत करते हैं। शब्दों के बाणों द्वारा उन्हें प्रतिक्रिया हेतु उकसाते हैं। ऐसे दुष्टों से उलझना कितना सही है, ये जातक कथा इसका वर्णन करती हैं।

Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi

Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi
Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi

एक जंगल में शेर रहता था – युवा और बलशाली। हृष्ट-पुष्ट सुंदर शरीर का मालिक और बल में उसका कोई सानी नहीं। जंगल के सभी जानवर उसका सम्मान करते थे।

गर्मी का दिन था। शिकार की तलाश में निकला शेर गर्मी से बेहाल हो गया और कीचड़ देख जाकर उसके पास खड़ा हो गया। वहाँ की शीतलता उसे गर्मी से राहत दे रही थी।

पास की झाड़ियों में एक सूअर लेटा हुआ था। शेर को देख वह बाहर निकल आया और उसे भला बुरा कहने लगा। जिसे सुनकर शेर आहत हो गया। जंगल का कोई जानवर उसके सामने ऐसा दुस्साहस न कर सकता था। वो क्रोध से भर उठा और सूअर को ललकारने लगा, “मुझ जैसा बलशाली इस जंगल में कोई नहीं। साहस है, तो बल से मेरा मुकाबला कर।”

शेर की ललकार सुनकर सूअर डर गया। किंतु ऊपर से सामान्य होने का दिखावा कर अगले दिन पर मुकाबला टाल दिया। शेर चला गया।
शेर के जाने के बाद डरा हुए सूअर भागा भागा बंदर के पास गया पहुँचा और सारी स्थिति बताते हुए परामर्श मांगा। बंदर ने उसे कीचड़ में लोटकर शेर के सामने जाने का परामर्श दिया।

ये भी पढ़ें : गिलहरी और बुद्ध की कहानी  

सूअर ने वैसा ही किया। कीचड़ में लोटकर अगले दिन वह शेर से मुकाबले के लिए पहुंचा। वह कीचड़ से लथपथ था। उससे दुर्गंध आ रही थी। मुकाबला देखने आए जानवर उसे देख नाक भौं सिकोड़ने लगे।

शेर ने जब उसे देखा, तो सोच में पड़ गया। उसका स्वयं का शरीर सुंदर और साफ सुथरा था। यदि वह सूअर से मुकाबला करता, तो स्वयं भी कीचड़ से लथपथ हो जाता। उसने सोचा – इस असभ्य दुष्ट सूअर से मुकाबला करके मुझे क्या प्राप्त होगा। ये तो स्वयं मलिन है, इसका तो कुछ न जाएगा, इससे उलझकर मैं मलिन हो जाऊंगा। और उसने सूअर से मुकाबले का विचार त्याग दिया।

सीख (Sher Aur Suar Ki Kahani Ki Seekh)

अपना सम्मान बचाए रखना है, तो दुष्ट व्यक्तियों की अनर्गल बातों में मत उलझो। ऐसे व्यक्ति से उलझने में कोई लाभ नहीं। उस व्यक्ति का तो यूं ही कोई सम्मान नहीं, उसे क्या अंतर पड़ेगा। किंतु उससे उलझकर समाज और लोगों के बीच आपकी प्रतिष्ठा अवश्य कम हो जाएगी। इसलिए दुष्ट लोगों की अनर्गल बातों में उलझने की मूर्खता न करें। उनका उत्तर अपने मौन से दें।

Lion And Pig Story Picture Book 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by YT Motivation (@ytmotivation19)

Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi Video

Friends, आपको “Lion And Pig Story Jatak Tales Hindi” कैसी लगी? आप अपने comments के द्वारा हमें अवश्य बतायें. “Sher Aur Suar Ki Kahani Jatak Katha” पसंद आने पर Like और Share करें. ऐसी ही अन्य “Jatak Tales In Hindi/Buddha Inspirational Stories In Hindi” पढ़ने के लिए हमें Subscribe कर लें. Thanks.

Read More Hindi Stories :

बीता हुआ कल बुद्ध कथा

राजा दुष्यंत और शकुंतला की कहानी

गुरुभक्त आरुणि की कहानी 

ध्रुव तारा की कहानी 

 

Leave a Comment