आलसी की दावत : मुल्ला नसरुद्दीन की कहानी | Aalsi Ki Dawat Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi

फ्रेंड्स, इस पोस्ट में हम मुल्ला नसरुद्दीन की मज़ेदार कहानी “आलसी की दावत” (Aalsi Ki Dawat Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi) शेयर कर रहे हैं. ये कहानी एक आलसी आदमी की है, जो अपना काम निकालने हर किसी के पीछे पड़ जाता है. मुल्ला नसरुद्दीन उसे कैसे सबक सिखाता है? यही इस मज़ेदार कहानी में बताया गया है. पढ़िए पूरी कहानी :

Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi

Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi
Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi | Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi

पढ़ें मुल्ला नसरुद्दीन की संपूर्ण कहानियों का संग्रह 

मुल्ला नसरुद्दीन के गाँव में एक आलसी आदमी रहता था. वह आदमी काम तो कुछ नहीं करता, बस हर समय इस प्रयास में रहता कि किसी तरह दूसरे से अपना काम करवा ले. इसके लिए वह अक्सर लोगों के पीछे पड़ जाया करता था.

लोग भी उसे समझने लगे थे. इसलिए उसे देखते ही कन्नी काट लेते थे. लेकिन फिर भी आलसी आदमी अपनी आदत से बाज़ नहीं आता था. 

मुल्ला नसरुद्दीन ने भी लोगों से आलसी आदमी के बारे में सुन रखा था और उसकी आलस की आदत से वाकिफ़ हो चुका था. लोग अक्सर मुल्ला से गुज़ारिश करते थे कि उसे को सबक सिखायें.

मुल्ला भी उसे सबक सिखाने की फ़िराक में था. लेकिन बद्किस्माती से उसे ऐसा मौका मिल नहीं पा रहा था.

किस्मत से एक दिन मुल्ला का आलसी आदमी से सामना हो गया. मुल्ला ने उसका हाल-चाल पूछा, सलीके से बात की और कहा, “दोस्त! कभी खाने पर घर आओ.”

“तो क्या इसे मैं दावत का निमंत्रण समझूं?” आलसी आदमी बोला.

“हाँ…हाँ…बिल्कुल. ऐसा करो. कल शाम मेरे घर दावत पर आ जाओ.” मुल्ला बोला.

आलसी आदमी ख़ुश हो गया. ज़िन्दगी में पहली बार उसे किसी ने दावत पर बुलाया था. वरना, तो सब उससे कन्नी काटा करते थे.

पढ़ें : पेड़ पर चढ़ा आदमी मुल्ला नसरुद्दीन का किस्सा 

मुल्ला से विदा लेने के बाद अपने घर जाकर भी वह दावत के बारे में ही सोचता रहा. अगली सुबह भी उसके दिमाग में कई तरह के पकवान नाच रहे थे. उसने पूरे दिन कुछ नहीं खाया, ताकि शाम को मुल्ला की दावत में डटकर खा सके.

शाम को वह तैयार होकर मुल्ला के घर पहुँच गया. मुल्ला के घर के बाहर खड़े होकर वह चिल्लाया, “मुल्ला, मैं आ गया हूँ.”

मुल्ला घर से बाहर आया, तो आलसी आदमी बोला, “खाने के पहले हाथ धो लेता हूँ. ज़रा पानी ले आओ.”

मुल्ला पानी ले आया और उसके हाथ पर पानी डालता हुआ कहने लगा, “माफ़ करना भाई. आज मैं तुम्हें दावत नहीं दे पाऊंगा.”

“क्यों क्या हुआ?” आलसी आदमी ने चौंककर पूछा.

“सामान तो तैयार है. पर एक चीज़ की कमी है.” मुल्ला ने बताया.

“कौन सी चीज़ की?” आलसी आदमी ने पूछा.

“काम करने वाले दो हाथ की.” मुल्ला मुस्कुराते हुए बोला.

आलसी आदमी सुबह का भूखा था. उसके पेट में चूहे कूद रहे थे. सुबह से उसने तरह-तरह के पकवानों के सपने देखे थे, सब मिट्टी में मिल चुके थे.

वह समझ गया कि मुल्ला ने उसे सबक सिखाने के लिए ऐसा किया है. उसने गुस्से से मुल्ला को देखा और चलता बना. उसके बाद वह जब भी मुल्ला को देखता, भाग जाता


दोस्तों, आशा है आपको ये “Mulla Nasruddin Funny Story In Hindi“ पसंद आयी होगी. आप इसे Like कर सकते हैं और अपने Friends के साथ Share भी कर सकते हैं. मज़ेदार “Mulla Nasruddin Ki Kahani” पढ़ने के लिए हमें Subscribe ज़रूर कीजिये. Thanks.        

Read More Stories In Hindi :

Leave a Comment