मुल्ला नसरुद्दीन की दो बीवियाँ | Two Wifes Of Mulla Masruddin

फ्रेंड्स, इस पोस्ट में हम मुल्ला नसरुद्दीन की दो बीवियाँ (Mulla Nasruddin Ki Do Biwiyan) किस्सा शेयर कर रहे हैं. हर बीवी की तरह मुल्ला की बीवियों की भी चाहत रहती थी कि उनका शौहर उन्हें ज्यादा प्यार करें. इस बात को लेकर वे अक्सर मुल्ला से सवाल किया करती थी. मुल्ला उन्हें कैसे मज़ेदार तरीके से संभालता था, यही इन किस्सों में बताया गया है.  पढ़िए मुल्ला नसरुद्दीन का ये मज़ेदार किस्सा (Two Wifes Of Mulla Masruddin) :

Mulla Nasruddin Ki Do Biwiyan

Mulla Nasruddin Ki Do Biwiyan
Mulla Nasruddin Ki Do Biwiyan | Mulla Nasruddin Ki Do Biwiyan

पढ़ें मुल्ला नसरुद्दीन की संपूर्ण कहानियों का संग्रह 


पहला किस्सा : मुल्ला नसरुद्दीन की दो बीवियाँ

मुल्ला नसरुद्दीन की दो बीवियां थीं. दोनों चाहती थीं कि मुल्ला उनसे ज्यादा प्यार करे. मुल्ला आखिर किसे ज्यादा चाहता है, ये जानने के लिए वे अक्सर उसके सामने ये सवाल रख देती थीं, “ज़रा बताइए तो, आप हम दोनों में से किसे ज्यादा चाहते हैं?”

मुल्ला घर में कोई कलह नहीं चाहता था. इसलिए वह उन्हें बड़ी ही चालाकी से जवाब देता था, “मैं तो तुम दोनों को एक समान ही चाहता हूँ.”

मुल्ला की इस बात पर उसकी बीवियों को यकीन नहीं होता था. इसलिए बार-बार मुल्ला को इस सवाल से दो-चार होना पड़ता था.

आखिरकार, हलाकान होकर मुल्ला ने एक तरक़ीब निकाली. वह अकेले में अपनी दोनों बीवियों के पास गया और उन्हें एक-एक नीला मोती देते हुए बोला, “सुनो, ये नीला मोती मैं ख़ास तुम्हारे लिए लाया हूँ. इसे तुम अपने पास ही रखना और दूसरी को इसके बारे में बिल्कुल मत बताना.”

दोनों बीवियों ने नीला मोती ले लिया और उसके बारे में दूसरी को नहीं बताया.

उसके बाद जब भी वे मुल्ला से पूछतीं कि वह दोनों में से किसे ज्यादा चाहता है, तो मुल्ला जवाब देता, “मैं उसे ज्यादा चाहता हूँ, जिसके पास नीला मोती है.”

ये जवाब सुनकर दोनों बीवियां मन ही मन ख़ुश हो जातीं और मुल्ला भी ख़ुश हो जाता.

पढ़ें : अकबर बीरबल के हंसी से लोटपोट कर देने वाले मज़ेदार चुटकुले 


दूसरा किस्सा : मुल्ला नसरुद्दीन की दो बीवियाँ

मुल्ला नसरुद्दीन ने दो शादियाँ की थी. उसकी पहली बीवी की उम्र हो चुकी थी और दूसरी जवान थी.

हर बीवी की तरह एक दिन मुल्ला की पहली बीवी उससे पूछने लगी, “बताओ जी, हम दोनों में से तुम किसे ज्यादा चाहते हो?”

मुल्ला चालाक था. उसने जवाब दिया, “तुम दोनों ही मेरे लिए अज़ीज़ हो. तुम दोनों को मैं एक जैसा ही चाहता हूँ.”

मुल्ला का जवाब सुनकर पहली बीवी संतुष्ट नहीं हुई. उसने एक सवाल दाग दिया, “फ़र्ज़ करो हम दोनों बीवियाँ नदी में गिर जायें और तुम दोनों में से किसी एक को ही बचा सकते हो. तो तुम किसे बचाओगे?’

 “अरे तुम्हें तो तैरना आता है ना?” मुल्ला बोला.


दोस्तों, आशा है आपको ये “Mulla Nasruddin And His Neighbour Story In Hindi“ पसंद आयी होगी. आप इसे Like कर सकते हैं और अपने Friends के साथ Share भी कर सकते हैं. मज़ेदार “Mulla Nasruddin Ka Kisaa” पढ़ने के लिए हमें Subscribe ज़रूर कीजिये. Thanks.  

Read More Mulla Masruddin Story In Hindi      

आलसी की दावत : मुल्ला नसरुद्दीन का किस्सा 

अनोखा नुस्खा : मुल्ला नसरुद्दीन का किस्सा 

पेड़ पर चढ़ा आदमी : मुल्ला नसरुद्दीन का किस्सा

मुल्ला नसरुद्दीन और उसका पड़ोसी

  

Leave a Comment