सकारात्मक और नकारात्मक सोच पर कहानी | Positive And Negative Thinking Story In Hindi

फ्रेंड्स, इस पोस्ट में हम प्रेरणादायक कहानी “सकारात्मक और नकारात्मक सोच” (Positive And Negative Thinking Story In Hindi) शेयर कर रहे हैं. यहाँ कहानी हमें सकारात्मक और नकारात्मक सोच के महत्व के बारे बताती है. पढ़िए पूरी कहानी :

Positive And Negative Thinking Story In Hindi

Positive And Negative Thinking Story In Hindi
Positive And Negative Thinking Story In Hindi

पढ़ेंप्रेरणादायक कहानियों का विशाल संग्रह 

एक नगर में एक धनी व्यापारी रहता था. एक दिन व्यापार के सिलसिले में वह यात्रा पर निकला. मार्ग में एक घना वन था, जिसे पार कर उसे अपने गंतव्य तक पहुँचना था. लेकिन चलते-चलते वह बहुत थक गया था. इसलिए एक वृक्ष के तले वह सुस्ताने के लिए बैठ गया.

सुस्ताते हुए उसे प्यास लगने लगी. लेकिन वह पानी लेकर नहीं चला था. वह सोचने लगा, “काश, मेरे पास थोड़ा पानी होता, जिससे मैं अभी अपनी प्यास बुझा पता.”  उसके यह सोचते ही एक चमत्कार हुआ और उसके समक्ष पानी से भरा एक घड़ा प्रकट हो गया. पानी से अपनी प्यास बुझाकर वह तृप्त हो गया.

कुछ देर बाद उसे भूख लगने लगी. लेकिन उसके पास भोजन नहीं था. वह खुद से बोला, “कितना अच्छा होता, यदि एक थाल में स्वादिष्ट भोजन मुझे मिल जाता. मेरी भूख मिट जाती.” उसके ये बोलते साथ ही पुनः चमत्कार हुआ और विभिन्न व्यंजनों से सजी एक थाल उसके सामने प्रकट हो गई. उसने पेट भरकर भोजन किया, जिसके बाद उसे नींद आने लगी. वह मन ही मन बुदबुदाया, “मैं इस पथरीली जमीन पर कैसे सोऊंगा? काश, यहाँ एक नरम बिस्तर होता.” पलक झपकते ही उसके सामने एक आरामदायक बिस्तर प्रकट हो गया.

पढ़ें : जीवन का मूल्य : प्रेरणादायक कहानी

वह उस बिस्तर पर लेट गया. उसे महसूस होने लगा, मानो वह स्वर्ग में है, जहाँ एक के बाद एक उसकी समस्त कामनायें पूर्ण होती जा रही है. वह अनभिज्ञ था कि जिस वृक्ष के नीचे वह लेटा हुआ है, वह कोई साधारण वृक्ष नहीं बल्कि एक कल्पवृक्ष है. जिसमें सभी इच्छाओं की पूर्ति करने की शक्ति है.

बिस्तर पर लेटे-लेटे उसके अचानक दिमाग में ख्याल आया कि वह वन तो कई प्रकार के जंगली जानवरों से भरा हुआ होगा, जो किसी भी क्षण वहाँ आ सकते है. ऐसे में तो वह खुद की रक्षा भी नहीं कर पायेगा. जैसे ही उसके दिमाग में ये विचार आया, कहीं से एक खूंखार शेर वहाँ आ गया. शेर को अपने समक्ष पाकर वह इतना भयभीत हो गया कि वहाँ से भाग भी नहीं पाया. शेर ने उस पर हमला कर दिया और उसे मारकर खा गया. इस प्रकार एक नकारात्मक विचार ने उसकी जान ले ली.

सीख 

इसलिए कहा जाता है कि मनुष्य अपने विचारों से गतिमान होता है. सकारात्मक विचार सर्वदा सकारात्मक परिणाम की ओर ले जाते है. इसलिए हमें हमेशा सकारात्मक सोच रखनी चाहिए. जीवन में सफ़लता प्राप्ति के लिए सदा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ें.


Friends, आपको ये “Positive And Negative Thinking Story In Hindi कैसी लगी? आप अपने comments के द्वारा हमें अवश्य बतायें. ये “Sakaratmak Soch Ki Sakti Par Kahani” पसंद आने पर Like और Share करें. ऐसी ही और Hindi Stories पढ़ने के लिए हमें Subscribe कर लें. Thanks.

21 Best Akbar Birbal Stories In Hindi

21 Best Panchatantra Stories In Hindi    

21 Best Motivational Stories In Hindi

Leave a Comment